समझदार कौआ

Home कहानियाँ समझदार कौआ
Short Story in Hindi, kids story in hindi

समझदार कौआ Kids Story in Hindi

एक बार की बात है एक जंगल में एक कौआ रहता था। वह कौवा बहुत समझदार था। जंगल के सभी जानवर उस कौए से प्यार करते थे।

Short Story in Hindi, kids story in hindi

Kids Story in Hindi

एक बार वह कौआ आसमान में उड़ रहा था। उसने आकाश से कुछ शिकारियों को जंगल में आते देखा। ये शिकारी जंगल की ओर आ रहे थे।

कौए को समझते देर न लगी कि शिकारी जंगल की ओर क्यों आ रहे हैं। कौआ तुरंत जानवरो की टोली की तरफ पहुंचकर सभी जानवरों को शिकारी के बारे में बताने में बताया। सभी जानवर शिकारी से बचने के लिए सुरक्षित स्थान पर चले गए।

लेकिन जंगल का राजा शेर शिकारी के जाल में फंस गया। शिकारियों ने शेर को एक बड़े से जाल में फसां लिया। कौवे ने यह देखा और वह सोचने लगी कि उसके राजा को कैसे बचाया जा सकता है?

कुछ देर सोचने के बाद कौए के दिमाग में एक योजना आई। वह तेजी से उड़ा और हाथी के सिर पर जा कर बैठ गया। उसे मदद करने के लिए कहा, हाथी ने उसे उनके दोस्त चूहे के पास जाने के लिए बोला। फिर वह अपने दोस्त चूहे के पास गया। उसने उस चूहे को अपने चोंच में लेकर और आकाश में उड़ गया।

कौए ने चूहे को वहीं छोड़ दिया जहां शिकारी थे। आकाश में उड़ते-काँव काँ-काँव करने लगे। यहां से हाथी भी जमीन पर पैर पटकते हुए शिकारी की ओर आने लगे।

शिकारी को कुछ समझ नहीं आ रहा था। अब शिकारियों के पास अपनी जान बचाने का एक ही रास्ता बचा था कि वे भाग जाएँ। फिर क्या था, शिकारी जान बचाकर भागने लगे। कौआ भी उनके सिर पर चोंच मारने लगा।

यहां चूहे ने जाल को काटकर शेर को आजाद कर दिया । उसके बाद वे शिकारी फिर जंगल की ओर नहीं आए। कौवे ने अपनी बुद्धि से सारे जंगल के जानवरों को बचा लिया। इसके लिए सभी जानवरों ने कौए को बहुत सम्मान दिया।

इसलिए कहते हैं विपत्ति के समय सूझबूझ और मिलकर काम करने से हर मुसीबत से बचा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!