Category: प्रेरक कहानियाँ 

Home प्रेरक कहानियाँ 
An inspirational story of Mahatma Buddha
Post

हमारे दुःख का कारण कौन है ?

हमारे दुःख का कारण कौन है ? Who is the reason for our sorrow? An inspirational story of Mahatma Buddha Inspirational story of Mahatma Buddha एक बार महात्मा बुद्ध किसी गांव में प्रवचन दे रहे थे। उन्होंने अपनी बात समाप्त करते हुए कहा, ‘मनुष्य के दुःख का कारण स्वयं को किसी से बांधना है। जहाँ आसक्ति होती...

Vishwas - Story of Encounter with God
Post

विश्वास – ईश्वर से मुलाकात की कहानी 

विश्वास – ईश्वर से मुलाकात की कहानी Vishwas – Story of Encounter with God एक छोटा बच्चा था। उसकी उम्र महज 9 साल थी, लेकिन उसकी गंभीरता इतनी थी कि 18 साल के बच्चे को भी मात दी जा सकती थी। समझ में वह अपनी उम्र से बड़ा था। एक बार उस बच्चे ने अपनी...

सच्ची मदद-एक नन्हा सा परिंदा
Post

सच्ची मदद-एक नन्हा सा परिंदा

सच्ची मदद-एक नन्हा सा परिंदा एक बार की बात है एक नन्हा सा परिंदा अपने परिवार जनों से बिछुड़ कर अपने घोसले से बहुत दूर उड़कर आ गया था। उस नन्हे परिंदे को अभीअच्छी तरह से उड़ान भरना नहीं आता था।वावजूद इसके वह न जाने कैसे इतनी दूर आ गया था। सच्ची मदद-एक नन्हा सा...

कड़ी मेहनत और स्मार्ट वर्क Hard work and Smart work
Post

कड़ी मेहनत और स्मार्ट वर्क Hard work and Smart work

कड़ी मेहनत और स्मार्ट वर्क Hard work and Smart work एक व्यापारी था। उसका व्यापार देश विदेश में फैला था। वह अक्सर विदेश आया जाया करता था। वह सामान की बड़ी बड़ी खेप जहाज पर लादकर समुद्र के रास्ते विदेश लेकर जाता था। एक बार की बात है, वह व्यापारी ढेर सारा सामान एक बड़े से जहाज...

gilahri aur sher ki kahani
Post

गिलहरी और शेर की कहानी Story of a squirrel and Lion

गिलहरी और शेर की कहानी यह एक गिलहरी और शेर की कहानी है। एक जंगल में एक शेर रहता था। उसके पास एक गिलहरी काम करती थी। गिलहरी बहुत मेहनती थी। वह अपना हर काम बड़ी ईमानदारी और मेहनत से वक्त पर पूरा करती थी। गिलहरी जरुरत से ज्यादा मेहनत करके भी बहुत खुश थी, क्योंकि...

दूरदर्शी सोच Best Motivational story in Hindi
Post

दूरदर्शी सोच A Motivational Story in Hindi

दूरदर्शी सोच Motivational Story in hindi एक गाँव में रघू और विजू नाम के दो दोस्त रहते थे। उनका गांव एक पहाड़ी के बगल में स्थित था। उस गांव में पानी का कोई साधन नहीं था। पानी लेने के लिए पहाडी के दूसरी तरफ घूमकर पथरीले रास्ते से होकर एक झील से लाना पड़ता था। परन्तु यह सब के लिए आसान नहीं...

error: Content is protected !!